Agar Husaini Ho Naat Lyrics

Agar Husaini Ho Naat Lyrics

 

मुआशरे को बुराई से पाक कर डालो
हर एक शर को मिटाओ अगर हुसैनी हो

हुसैनियत का मिशन सुनो, हुसैनी बन के जियो
हुसैनियत का मिशन सुनो, हुसैनी बन के जियो

लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन
लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

निज़ामे-हक़ को बचाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

यज़ीदियत को मिटाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

लगादो जान की बाज़ी बक़ा-ए-हक़ के लिये
वफ़ा का अहद निभाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

हुसैन ज़िंदा ज़मीरी की एक अलामत है
ख़ुदी हयात में लाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन
लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन

उन्हों ने मौत के शोलों पे भी नमाज़ पड़ी
नमाज़ें अपनी बचाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

कभी किसी को घटा कर न बड़े होगे तुम
खुद अपने कद को बढ़ाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन
लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन

जुलूसो-जलसाओ-नारा ही बस नहीं सब कुछ
अमल भी कर के दिखाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

नबी की इज़्ज़तो-नामूस के तहफूज़ पर
जवानी अपनी लुटाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन
लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन

हुसैन वारिसे-इल्मे-नबी को केहते हैं
पढ़ो, पढ़ाओ, सिखाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

सुनो फरीदी मुहर्रम का है यहीं पैग़ाम
अलम न हक़ का झुकाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

निज़ामे-हक़ को बचाओ

अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो
अगर हुसैनी हो, अगर हुसैनी हो

लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन
लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन, लब्बैक लब्बैक मौला हुसैन

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *