Chamak Raha Hai Tumhara Rauza Hamein Bhi Dar Pe Bulana Khwaja Piya Naat Lyrics

Chamak Raha Hai Tumhara Rauza Hamein Bhi Dar Pe Bulana, Khwaja Piya Naat Lyrics

 

चमक रहा है तुम्हारा रौज़ा
हमें भी दर पे बुलाना
ख़्वाजा पिया ! ख़्वाजा पिया !

सभी की बिगड़ी बनाई तुम ने
मेरी भी बिगड़ी बनाना
ख़्वाजा पिया ! ख़्वाजा पिया !

मदीने से भेजा है तुम को नबी ने
नवाज़ा है तुम को बहुत ही ‘अली ने
न ही इस में तकरार की है किसी ने
है भारत का सुलतान माना सभी ने
कि सारे हिन्दुस्ताँ का मौसम
तुम्हीं से तो है सुहाना
ख़्वाजा पिया ! ख़्वाजा पिया !

वो मग़रूर राजा के सर को झुका दे
वो बस एक कासे में दरिया समा दे
वो तन्हा हुकूमत की धज्जी उड़ा दे
वो जयपाल जोगी को पानी पिला दे
उन्हें ख़ुदा ने ‘अता किया है
करामतों का ख़ज़ाना
ख़्वाजा पिया ! ख़्वाजा पिया !

मैं सीने में ख़्वाजा का गुम्बद छुपा लूँ
मैं दहलीज़ को अपने दिल से लगा लूँ
बहारें वहाँ की नज़र में बसा लूँ
मैं नाम उन का साँसों की सरगम बना लूँ
रहे हमेशा, शुऐब ! मेरे
लबों पे एक तराना
ख़्वाजा पिया ! ख़्वाजा पिया !

नात-ख़्वाँ:
शुऐब रज़ा क़ादरी

 

chamak raha hai tumhara rauza
hame.n bhi dar pe bulaana
KHwaja piya ! KHwaja piya !

sabhi ki big.Di banaai tum ne
meri bhi big.Di banaana
KHwaja piya ! KHwaja piya !

madine se bheja hai tum ko nabi ne
nawaaza hai tum ko bahut hi ‘ali ne
na hi is me.n takraar ki hai kisi ne
hai bhaarat ka sultaan maana sabhi ne
ki saare hindustaa.n ka mausam
tumhi.n se to hai suhaana
KHwaja piya ! KHwaja piya !

wo maGroor raaja ke sar ko jhuka de
wo bas ek kaase me.n dariya sama de
wo tanha hukoomat ki dhajji u.Da de
wo jaypaal jogi ko paani pila de
unhe.n KHuda ne ‘ata kiya hai
karaamato.n ka KHazaana
KHwaja piya ! KHwaja piya !

mai.n seene me.n KHwaja ka gumbad chhupa loo.n
mai.n dahleez ko apne dil se laga loo.n
bahaare.n wahaa.n ki nazar me.n basa loo.n
mai.n naam un ka saanso.n ki sargam bana loo.n
rahe hamesha, Shoaib ! mere
labo.n pe ek taraana
KHwaja piya ! KHwaja piya !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *