Dama-Dam Mast-Qalandar Siddiq Da Pehla Nambar Naat Lyrics

Dama-Dam Mast-Qalandar Siddiq Da Pehla Nambar Naat Lyrics

 

 

Dama-Dam Mast-Qalandar, Siddiq Da Pehla Nambar | Haq Chaar-Yaar ! Zindaabaad !

 

दुनिया-ए-सदाक़त में तेरा नाम रहेगा
सिद्दीक़ तेरे नाम से इस्लाम रहेगा

सिद्दीक़ के बाग़ी तो सदा रोते रहेंगे
ख़ुश आशिक़-ए-सिद्दीक़ सुब्ह-ओ-शाम रहेगा

दमा-दम मस्त-क़लंदर
सिद्दीक़ दा पहला नंबर
उमर दा दूजा नंबर
उस्मान दा तीजा नंबर
हैदर दा चौथा नंबर

हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !
हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !

पहला ख़लीफ़ा, यारो ! सिद्दीक़-ए-अकबर
सच्चा ए आप ते है सच्चियाँ दा रहबर
यार-ए-ग़ार मेरा बेड़ा तिरा
जींद जान वाराँ
याराँ तों, ईनाँ चाराँ तों
मेरी बिगड़ी बना देना

दमा-दम मस्त-क़लंदर
सिद्दीक़ दा पहला नंबर
उमर दा दूजा नंबर
उस्मान दा तीजा नंबर
हैदर दा चौथा नंबर

हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !
हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !

दूजा ख़लीफ़ा, यारो ! उमर-ए-फ़ारूक़ है
जिस दी अदालत उच्ची, नाले इमामत उच्ची
नाम उमर दा देवे शैतान नसा
जींद जान वाराँ
याराँ तों, ईनाँ चाराँ तों
मेरी बिगड़ी बना देना

दमा-दम मस्त-क़लंदर
सिद्दीक़ दा पहला नंबर
उमर दा दूजा नंबर
उस्मान दा तीजा नंबर
हैदर दा चौथा नंबर

हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !
हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !

तीजा ख़लीफ़ा, यारो ! उस्मान प्यारा
शर्मां दा पैकर नाले दो नूर वाला
माड़याँ नूँ ग़नी बना
जींद जान वाराँ
याराँ तों, ईनाँ चाराँ तों
मेरी बिगड़ी बना देना

दमा-दम मस्त-क़लंदर
सिद्दीक़ दा पहला नंबर
उमर दा दूजा नंबर
उस्मान दा तीजा नंबर
हैदर दा चौथा नंबर

हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !
हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !

चौथा ख़लीफ़ा, यारो ! मौला अली है
वीर नबी दा, नाले हक़ दा वली है
नाम-ए-अली है ग़म दी दवा
जींद जान वाराँ
याराँ तों, ईनाँ चाराँ तों
मेरी बिगड़ी बना देना

दमा-दम मस्त-क़लंदर
सिद्दीक़ दा पहला नंबर
उमर दा दूजा नंबर
उस्मान दा तीजा नंबर
हैदर दा चौथा नंबर

हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !
हक़ चार-यार ! ज़िंदाबाद !

दमा-दम मस्त-क़लंदर
दमा-दम मस्त-क़लंदर

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *