Main Lajpalan De Lar Lagiyan Mere Ton Gam Pare Rehnde Naat Lyrics

Main Lajpalan De Lar Lagiyan Mere Ton Gam Pare Rehnde Naat Lyrics

 

मैं लजपालां दे लड़ लगियाँ मेरे तों ग़म परे रेहंदे
मेरी आसां उम्मीदां दे सदा बूटे हरे रेहंदे

ख़याल-ए-यार विच मैं मस्त रेहंदा आँ दिने राती
मेरे दिल विच सजण वसदा, मेरे दीदे ठरे रेहंदे

मैं लजपालां दे लड़ लगियाँ मेरे तों ग़म परे रेहंदे
मेरी आसां उम्मीदां दे सदा बूटे हरे रेहंदे

दुआ मंगिया करो संगियो किथे मुर्शिद ना रुस जावे
जिन्हां दे पीर रुस जांदे ओह जियूं दे वी मरे रेहंदे

मैं लजपालां दे लड़ लगियाँ मेरे तों ग़म परे रेहंदे
मेरी आसां उम्मीदां दे सदा बूटे हरे रेहंदे

कदी वी लुड़ नईं पैंदी मैनूं दर दर ते जावण दी
मैं लजपालां दा मंगता आँ मेरे पल्ले भरे रेहंदे

मैं लजपालां दे लड़ लगियाँ मेरे तों ग़म परे रेहंदे
मेरी आसां उम्मीदां दे सदा बूटे हरे रेहंदे

नियाज़ी मैनूं ग़म काहदा, मेरी निस्बत है ला-सानी
किसे दे रहण जो बण के क़सम रब दी खरे रेहंदे

मैं लजपालां दे लड़ लगियाँ मेरे तों ग़म परे रेहंदे
मेरी आसां उम्मीदां दे सदा बूटे हरे रेहंदे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *