Mera Mazboot Hai Iman Main Ala Hazrat Wala Hun Naat Lyrics

Mera Mazboot Hai Iman Main Ala Hazrat Wala Hun Naat Lyrics

 

 

आ’ला हज़रत हमारी जान हैं
आ’ला हज़रत हमारी शान हैं

इमाम-ए-अहल-ए-सुन्नत ! मेरे आ’ला हज़रत !
इमाम-ए-अहल-ए-सुन्नत ! मेरे आ’ला हज़रत !

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मेरा मज़बूत है ईमान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
लुटा दूँगा नबी पर जान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मेरे रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा रज़ा !

बरेली वाले ईमाँ का कभी सौदा नहीं करते
मेरे मरकज़ की है ये शान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मेरे रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा रज़ा !

नबी के ‘इश्क़ में जिस ने गुज़ारे रात-दिन अपने
मैं उस ‘आशिक़ पे हूँ क़ुर्बान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मेरे रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा रज़ा !

रसूलुल्लाह को मैं जानता हूँ हाज़िर-ओ-नाज़िर
यही क़ुरआँ का है ए’लान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

इमाम-ए-अहल-ए-सुन्नत ! मेरे आ’ला हज़रत !
इमाम-ए-अहल-ए-सुन्नत ! मेरे आ’ला हज़रत !

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

अगर मुन्किर में है हिम्मत तो मेरे सामने आए
लिए बैठा हूँ मैं क़ुरआन, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

आ’ला हज़रत हमारी जान हैं
आ’ला हज़रत हमारी शान हैं

मेरे रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा रज़ा !

नबी की आल का वो बे-अदब हो ही नहीं सकता
हुआ है जिस का भी ए’लान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मेरे रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा रज़ा !

क़लम से आज भी जिस के हैं गुस्ताख़-ए-नबी ज़ख़्मी
बरेली का है वो सुलतान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

इमाम-ए-अहल-ए-सुन्नत ! मेरे आ’ला हज़रत !
इमाम-ए-अहल-ए-सुन्नत ! मेरे आ’ला हज़रत !

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मैं सुन्नी के लिए बे-शक ! हवा का ठंडा झोंका हूँ
मुनाफ़िक़ के लिए तूफ़ान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मेरे रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा रज़ा !

मैं दीवाना हूँ, ऐ ‘आसिम ! जनाब-ए-ग़ौस-ए-आ’ज़म का
मेरी अख़्तर रज़ा हैं जान, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

इमाम-ए-अहल-ए-सुन्नत ! मेरे आ’ला हज़रत !
इमाम-ए-अहल-ए-सुन्नत ! मेरे आ’ला हज़रत !

मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ
मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ, मैं आ’ला हज़रत वाला हूँ

मेरे रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा ! रज़ा रज़ा रज़ा !

शायर:
मुहम्मद आसिम-उल-क़ादरी मुरादाबादी

ना’त-ख़्वाँ:
हाफ़िज़ ताहिर क़ादरी
हाफ़िज़ अहसन क़ादरी
मुहम्मद हस्सान रज़ा क़ादरी

 

aa’la hazrat hamaari jaan hai.n
aa’la hazrat hamaari jaan hai.n

imaam-e-ahl-e-sunnat ! mere aa’la hazrat !
imaam-e-ahl-e-sunnat ! mere aa’la hazrat !

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mera mazboot hai imaan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n
luTa doo.nga nabi par jaan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mere raza raza ! raza raza ! raza raza raza !

bareli waale imaa.n ka kabhi sauda nahi.n karte
mere markaz ki hai ye shaan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mere raza raza ! raza raza ! raza raza raza !

nabi ke ‘ishq me.n jis ne guzaare raat-din apne
mai.n us ‘aashiq pe hu.n qurbaan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mere raza raza ! raza raza ! raza raza raza !

rasoolallah ko mai.n jaanta hu.n haazir-o-naazir
yahi qur.aa.n ka hai e’laan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

imaam-e-ahl-e-sunnat ! mere aa’la hazrat !
imaam-e-ahl-e-sunnat ! mere aa’la hazrat !

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

agar munkir me.n hai himmat to mere saamne aae
liye baiTha hu.n mai.n qur.aan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

aa’la hazrat hamaari jaan hai.n
aa’la hazrat hamaari jaan hai.n

mere raza raza ! raza raza ! raza raza raza !

nabi ki aal ka wo be-adab ho hi nahi.n sakta
huaa hai jis ka bhi e’laan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mere raza raza ! raza raza ! raza raza raza !

qalam se aaj bhi jis ke hai.n gustaaKH-e-nabi zaKHmi
bareli ka hai wo sultaan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

imaam-e-ahl-e-sunnat ! mere aa’la hazrat !
imaam-e-ahl-e-sunnat ! mere aa’la hazrat !

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mai.n sunni ke liye be-shak ! hawa ka Thanda jhonka hu.n
munaafiq ke liye toofaan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mere raza raza ! raza raza ! raza raza raza !

mai.n deewaana hu.n, ai ‘Aasim ! janaab-e-Gaus-e-aa’zam ka
meri aKHtar raza hai.n jaan, mai.n aa’la hazrat waala hu.n

imaam-e-ahl-e-sunnat ! mere aa’la hazrat !
imaam-e-ahl-e-sunnat ! mere aa’la hazrat !

mai.n aa’la hazrat waala hu.n
mai.n aa’la hazrat waala hu.n

mere raza raza ! raza raza ! raza raza raza !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *