Milad Na Chhodenge Naat Lyrics

Milad Na Chhodenge Naat Lyrics

 

 

मीलाद हमारा है, सुन्नी का ये नारा है

इस काम में जीना है, इस काम में मरना है
हर हाल में करना है और करते ही जाना है

ये नारा हमारा रहेगा सदा
ये वा’दा हमारा रहेगा सदा

सरकार से वा’दा है, मीलाद न छोड़ेंगे
मीलाद हमारा है, मीलाद न छोड़ेंगे

कपड़े नए पहनेंगे, हम ख़ुद को सँवारेंगे
आमद के जुलूसों की कारों को सजाएंगे
उश्शाक़ का नारा है, मिलाद न छोड़ेंगे

सरकार की आमद ! मरहबा
दिलदार की आमद ! मरहबा
आक़ा की आमद ! मरहबा
मौला की आमद ! मरहबा

मरहबा या मुस्तफ़ा ! मरहबा या मुस्तफ़ा !
मरहबा या मुस्तफ़ा ! मरहबा या मुस्तफ़ा !

मीलाद हमारा है, मीलाद न छोड़ेंगे

आँखों में सजा सपना, बस एक मिशन अपना
दे जाएंगे विर्से में बस जश्न मुहम्मद का
नस्लों को सिखाना है, मीलाद न छोड़ेंगे

सरकार से वा’दा है, मीलाद न छोड़ेंगे
मीलाद हमारा है, मीलाद न छोड़ेंगे

दिन-रात लगाएंगे, घर-बार सजाएंगे
चाहत से अक़ीदत से मीलाद मनाएंगे
हर साल मनाना है, मीलाद न छोड़ेंगे

सरकार की आमद ! मरहबा
दिलदार की आमद ! मरहबा
आक़ा की आमद ! मरहबा
मौला की आमद ! मरहबा

सरकार से वा’दा है, मीलाद न छोड़ेंगे
मीलाद हमारा है, मीलाद न छोड़ेंगे

अस्लाफ़ का नारा है, वलियों ने मनाया है
ये ज़िक्र-ए-विलादत तो क़ुरआं ने बताया है
असहाब से सीखा है, मीलाद न छोड़ेंगे

सरकार से वा’दा है, मीलाद न छोड़ेंगे
मीलाद हमारा है, मीलाद न छोड़ेंगे

मीलाद के जल्से में, थे ज़िक्र-ए-मोहब्बत में
जां उन पे फ़िदा कर के पहुंचे है वो जन्नत में
शोहदा से ये वा’दा है, मीलाद न छोड़ेंगे

सरकार की आमद ! मरहबा
दिलदार की आमद ! मरहबा
आक़ा की आमद ! मरहबा
मौला की आमद ! मरहबा

मरहबा या मुस्तफ़ा ! मरहबा या मुस्तफ़ा !
मरहबा या मुस्तफ़ा ! मरहबा या मुस्तफ़ा !

मीलाद हमारा है, मीलाद न छोड़ेंगे

आ जाओ उजागर ! तुम इस दामन-ए-रहमत में
शामिल भी रहोगे तुम फ़िहरिस्त-ए-शफ़ाअत में
ये बात अक़ीदा है, मीलाद न छोड़ेंगे

सरकार से वा’दा है, मीलाद न छोड़ेंगे
मीलाद हमारा है, मीलाद न छोड़ेंगे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *