Munhinjo Mustafa Paak Padhro Lakhan Mein Naat Lyrics

Munhinjo Mustafa Paak Padhro Lakhan Mein Naat Lyrics

 

मुंहिंजो मुस्तफ़ा पाक पधरो लखन में
जींअं गुल गुलाबी आ सुहिणो गुलन में

हशर वेल हूंदा सवें राज राणा
तिनीं मां मुहम्मद परे खां सुञाणा
हूंदस छोटकारे जो झंडो हथन में

कंदो हर को पंहिंजी रुग़ी जान पुख्ती
मुहम्मद जे मन में या उम्मती ! या उम्मती !
एहड़ियूँ सव सचायूं डेखारे दुखन में

जहन्नम खे जिंहं डींहं हुंदी मौज मस्ती
इन्हिं बाह खे भी हटाए का हस्ती
करे पार कश्ती आणिधो अमन में

ज़ईफ़न जो ज़ामिन डींधो राह ठाहे
दुखन एं डोलावन जी परवाह नाहे
अची पाण बीहंदो सो सरवर सफ़न में

शुकिर कर, महेसर ! शफ़ादार मिल्यो
पको साथ दींदड़ वफ़ादार मिल्यो
ग़ुलाम-ए-नबी ते ख़ुशी हर वतन में

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *